Tag Archives: Wada

Wada Shayari

Bewafa To Wo Khud Thi Par Ilzam

Bewafa To Wo Khud Thi,
Par Ilzam Kisi Or Ko Deti Hai,
Pehle Naam Tha Mera Uske Honthon Par,
Ab Woh Naam Kisi Or Ka Leti Hai,
Kabhi Leti Thi Wada Mujhse Saath Na Chorne Ka,
Ab Yehi Wada Kisi Aur Se Leti Hai !

बेवफा तो वो खुद थी,
पर इल्ज़ाम किसी और को देती है,
पहले नाम था मेरा उसके होठों पर,
अब वो नाम किसी और का लेती है,
कभी लेती थी वादा मुझसे साथ ना छोड़ने का,
अब यही वादा किसी और से लेती है!!

Dosti Shayari, Wada na karo agar

Wada na karo agar tum nibha na sako,
Chaho na usko jise tum pa na sako,
Dost to duniya me bahot hote hai,
Par ek khas rakho jiske bina tum muskura na sako.

वादा ना करो अगर तुम निभा ना सको,
चाहो न उसको जिसे तुम पा ना सको,
दोस्त तो दुनिया में बहुत होते है,
पर एक खास रखो जिसके बिना मुस्कुरा ना सको।

Good Morning Shayari, Wada kiya hai to

Wada kiya hai to zaroor nibhayenge,
Suraj ki kiran bankar chhat pe ayenge,
Hum hain to judayi ka gum kaisa,
Teri har subah ko phoolon se sajayenge.
Good Morning

वादा किया है तो ज़रूर निभाएंगे,
सूरज की किरण बनकर छत पे आएंगे,
हम हैं तो जुदाई का गम कैसा,
तेरी हर सुबह को फूलों से सजाएंगे.
Good Morning

Funny Shayari, Hum dil fek aashiq

हम दिलफेक आशिक़ है हर काम में कमाल कर दे,
जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे,
क्या जरुरत है जानू को लिपस्टिक लगाने की,
हम चूम-चूम के ही होंठ उसके लाल कर दे !! 👄 😜

Hum dil fek aashiq har kam me kamal kar de.
Jo wada kare use pura har haal me kar de.
Tujhe lipistik lagane ki kya jarurat,
hum hot chum-chum ke lal kar de!! 👄 😜

Bewafa Shayari, Bewafa To Woh Khud Thi

Bewafa To Woh Khud Thi..
Par Ilzaam Kisi Aur Ko Deti Hai..
Pehle Naam Tha Mera Uske Hothon Par..
Ab Woh Naam Kisi Aur Ka Leti Hai..
Kabhi Leti Thi Wada Mujhse Saath Na Chorne Ka..
Ab Yehi Wada Kisi Aur Se Leti Hai.

Hindi Sad Shayari, Wada kar k wo

वादा करके वो निभाना भूल जाते हैं,
लगा कर आग फिर वो बुझाना भूल जाते हैं,
ऐसी आदत हो गयी है अब तो उस हरजाई की,
रुलाते तो हैं मगर मनाना भूल जाते हैं।

Love Shayari, Khayalon Me Aane Ka

Khayalon Me
Khayalon Me Aane Ka Wada Kijiye,
Hame Yaad Karne Ka Wada Kijiye,
Sham Ki Udasi Ko Dekhiye Jara,
Ise Hasin Banane Ka Wada Kijiye,
Khubsurat Hain Aap Aur Nazar Aapki,
Bas Hame Dekhne Ka Wada Kijiye,
Is Dil Me Aapki Chahat Hai Basi,
Mujhse Na Bichhadne Ka Wada Kijiye.

Yaad Shayari, Mujh Se Wada Karo

मुझसे वादा करो
मुझसे वादा करो मुझे रुलाओगे नहीँ
हालात जो भी हो मुझे भुलाओगे नहीं
छुपा के अपनी आँखों में रखोगे मुझ को
दुनिया में किसी और को दिखाओगे नहीं
मेरे लफ़्ज मेरे दिल की तहरीरें हैं,
कसम उठाओ इन को कभी जलाओगे नहीं
मुझे ये यकीन दिलाओ मुझे याद रखोगे
मेरी यादों को अपने दिल से मिटाओगे नहीं..

Mujh Se Wada Karo
Mujh Se Wada Karo Mujhe Rulao Ge Nahi
Halaat Jo Bhi Ho Mujhe Bhulao Ge Nahi
Chhupa Ke Apni Ankhon Mien Rakho Ge Mujhe
Dunia Mien Kisi Or Ko Dikhao Gay Nahi
Mere Lafaz Mere Dil Ki Tahrerain Hain
Qasam Uthao Ke Inko Jalao Ge Nahi
Mujhe Yeh Yaqeen Dilao Ke Mujhe Yaad Rakho Ge
Meri Yadoon Ko Apnay Dil Se Mitao Ge Nahi..!​