Best Shayari on Love, Pehli mohabbat ke liye

पहली मोहब्बत के लिए दिल जिसे चुनता है.,
वो अपना हो न हो दिल पर राज हमेशा उसी का रहता है। ❤️️

Best Shayari on Love, Pehli Mohabbat Ke Liye Dil

Best Shayari on Love, Pehli Mohabbat Ke Liye Dil

नही भाता है हमे तेरे सिवा किसी और का चेहरा
तुझे देखना और देखते रहना दस्तुर बन गया है। 💞

चलती रहती है, गज़ल कोई उन निगाहों में,
मुशायरे सा है कुछ देखना उनका। 💖
(more…)

Best Shayari on Love, Ishq mohabbat pyar

इक समंदर सा नशा है तेरी. मोहब्बत का
उभरता हूँ उभर के फिर से डूब जाता हूँ। 💕

इश्क़, मोहब्बत, प्यार, इबादत सब कहने की बाते है,
चाहिए अगर सुकून ज़िन्दगी में, तो इनसे दूरी रखिये। ❤️️

खव्वाहिश तो न थी किसी से दिल लगाने की पर,
किस्मत में दर्द लिखा है मोहब्बत कैसे न होती। ❤️️
(more…)

Hindi Love Shayari, Mohabbat waqt ke

मुझ पर अपनों का प्यार, बस यूँ उधार ही रहने दो,
बड़ा खुशनुमा है ये कर्ज़, मुझे कर्ज़दार ही रहने दो।

यूं तो अकसर कई मिलते हैं राह ए सफर में,
पर तुम मिले तो ऐसा लगा जैसे हमकदम मिल गया।

मोहब्बत वक़्त के बे रहम तूफानों से नहीं डरती,
उसे कहना बिछड़ने से मोहब्बत तो नहीं मरती।
(more…)

Best Love Shayari, Sirf sitaron me hoti mohabbat

सिर्फ सितारो मे ही होती मोहब्बत अगर,
तो इन अल्फाजो को खूबसूरती कौन देता,
बस पत्थर बन कर रह जाता ताजमहल,
अगर इश्क इसे अपनी पहचान ना देता! 💕💕

Sirf sitaron me hoti mohabbat agar,
In alfajon ko khubsurati kaun deta.
Bus patthar banke reh jata Taj Mahal,
Agar ishq ise apni pehchan na deta. 💕💕

Mohabbat to jeene ka naam hai

मोहब्बत तो जीने का नाम है,
मोहब्बत तो यूँ ही बदनाम है,
एक बार मोहब्बत करके तो देखो,
मोहब्बत हर दर्द पीने का नाम है। 💘

Mohabbat to jeene ka naam hai,
mohabbat to yoon hi badnaam hai,
ek baar mohabbat karke to dekho,
mohabbat har dard peene ka naam hai. 💘

Ho jau tumse door phir mohabbat kis se karu

Love shayari, ho jau tumse door phir mohabbat kis se karu

Love shayari from heart

हो जाऊ तुमसे दूर फिर मौहब्बत किससे करूं,
तुम हो जाओ नाराज फिर शिकायत किससे करूं,
इस दिल में कुछ भी नहीं तुम्हारी चाहतों के सिवा,
अगर तुम्हें ही भूला दूं तो फिर प्यार किसे करूं! 💕

Love Shayari, Teri mohabbat se mujhe inkaar nahi

तेरी मोहब्बत से मुझे इनकार नहीं,
कौन कहता है जान मुझे तुझसे प्यार नहीं,
तुझसे वादा है साथ निभाने का,
पर मुझे अपनी साँसों पे एतबार नहीं! 💕

Teri mohabbat se mujhe inkaar nahi,
Kaun kehta hai jaan mujhe tujhse pyaar nahi,
Tujhse waada hai saath nibhaane ka,
Par mujhe apni saanson pe aitbaar nahi. 💕