Log bewajh dhundte hain khudkhushi ke tarike hazar

लोग बेवजह ढूँढते हैँ खुदखुशी के तरीके हजार,
इश्क करके क्यों नहीँ देख लेते वो एक बार। 💘

Log bewajh dhundte hain khudkhushi ke tarike hazar,
ishq karke kyon nahi dekh lete wo ek baar. 💘

2 Line Shayari #194, Khareed pau khushiyan

खरीद पाऊँ खुशियाँ उदास चेहरों के लिए,
मेरे किरदार का मोल इतना करदे खुदा। 🙏🏻

तड़प रहे है हम तुम्हारे एक अल्फाज के लिए,
तोड़ दो ख़ामोशी मुझे ज़िंदा रखने के लिए।

उसके लिये तो मैंने यहां तक दुआएं कि है..
उसे कोई चाहे भी तो.. बस मेरी तरह चाहे।

कोई समझे तो एक बात कहूँ साहब,
तनहाई सौ गुना बेहतर है मतलबी लोगों से। ❣

तुम्हारी और मेरी रात में बस फर्क इतना है,
तुम्हारी सो के गुजरी है, हमारी रो के गुजरी है। 😰

महफूज़ रख, बेदाग रख, मैली ना कर जिंदगी,
मिलती नहीं इंसान को किरदार की चादर नई।

शुकर किये जा तू मालिक का शुकराना ही भक्ति है,
शिकवे गिले को लब पर अपने न लाना ही भक्ति है।

बहुत गुस्ताख है तेरी यादे इन्हे तमीज सिखा दो,
कमबख्त दस्तक भी नही देती और दिल में उतर जाती है।

लगता है आँखों से अश्क़ों की तरह बरसते रहेंगे हम,
ताउम्र प्यार के लिए इसी तरह तरसते रहेंगे हम। 💕

ख़त्म हुआ अब महबूब की गलियों मे घूमने का दस्तूर,
अब जब भी उनकी याद आती है, DP खोल के देख लेते हैं। 💔

Hindi Poetry, Khushiyan kam

खुशियाँ कम और अरमान बहुत हैं,
जिसे भी देखो परेशान बहुत है..
करीब से देखा तो निकला रेत का घर,
मगर दूर से इसकी शान बहुत है..
कहते हैं सच का कोई मुकाबला नहीं,
मगर आज झूठ की पहचान बहुत है..
मुश्किल से मिलता है शहर में आदमी,
यूं तो कहने को इन्सान बहुत हैं।।

Love Shayari, Rab se aapki khushi

Rab se aapki khushi mangte hain,
duaon me aapki hansi mangte hain,
sochte hain kya mangen aapse..
chalo aapki umar bhar ki mohabbat mangte hain.

रब से आपकी खुशी मांगते हैं,
दुआओं में आपकी हंसी मांगते हैं,
सोचते हैं आपसे क्या मांगें चलो,
आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगते हैं!

Dosti Shayari, Mil jati hai kitno ko khushi

मिल जाती है कितनो को ख़ुशी,
मिट जाते हैं कितनो के गम,
मैसेज इसलिये भेजते है हम,
ताकि न मिलने से भी अपनी दोस्ती न हो कम.

Mil jati hai kitno ko khushi,
Mit jate hain kitno ke gum,
Message isliye bhejte hai hum,
Taki na milne se bhi apni dosti na ho kam.

Love Shayari, Kaash koi khushiyon ki

काश की खुशियो की दुकान होती ।
उनमे हमारी थोरी पहचान होती ।
सारी खुशियाँ डाल देता तेरी दामन मे चाहे
उनकी कीमत हमारी जान क्यो न होती |

Kaash koi khushiyon ki dukaan hoti,
Aur mujhe uski pehchaan hoti,
Khareed leta har khushi aapke liye,
Chahe uski keemat meri jaan bhi hoti.

Love Shayari, Teri khushiyo ko

तेरी खुशिओं को सजाना चाहता हूँ,
तुझे देखकर मुस्कराना चाहता हूँ,
मेरी ज़िन्दगी में क्या अहमियत हैं तेरी,
ये लब्ज़ों में नही,पास आकर बताना चाहता हूँ।

Teri khushiyo ko sajana chahti hu,
Tujhe dekh k muskurana chahti hu,
Meri zindagi me kya ahmiyat hai teri,
Ye lafzo me nahi pass aa kar batana chahti hu.