2 Line Shayari, Yu na barbad kar mujhe

यूँ ना बर्बाद कर मुझे, अब तो बाज़ आ दिल दुखाने से..
मै तो सिर्फ इन्सान हूँ, पत्थर भी टूट जाता है, इतना आजमाने से।


कभी तुम पूछ लेना, कभी हम भी ज़िक्र कर लेगें..
छुपाकर दिल के दर्द को, एक दूसरे की फ़िक्र कर लेंगे।


ये उड़ती ज़ुल्फें और ये बिखरी मुस्कान,
एक अदा से संभलूँ तो दूसरी होश उड़ा देती है।


सब मुझे ही कहते है की भूल जाओ उसे,
कोई उसे क्यूँ नहीं कहेता की वो मेरी हो जाए।


वफ़ा करनी भी सीखो इश्क़ की नगरी में ए दोस्त..
फ़क़त यूँ दिल लगाने से दिलों में घर नही बनते..!!


गुफ्तगू उनसे होती यह किस्मत कहाँ..
ये भी उनका करम है कि वो नज़र तो आये।


इक झलक देख लें तुझको तो चले जाएंगे..
कौन आया है यहां उम्र बिताने के लिए।


निकल गया तलाश में उसकी मैं पागलों की तरह..
जैसे मुझे अब इंतज़ार नहीं #सनम चाहिये।।


दुआ करो की वो सिर्फ हमारे ही रहे,
क्यूंकि हम भी किसी और के होना नहीं चाहते।


हवस ने पक्के मकान, बना लिये हैं जिस्मों में..
और सच्ची मुहब्बत किराये की झोपड़ी में, बीमार पड़ी है आज भी।

Sad Shayari, Meri barbadi par tu

Meri barbadi par tu koi malal na karna,
bhul jana mera khyal na karna,
hum teri khusi k liye kafan odh lenge,
pr tu meri laash se koi sawal na karna.

मेरी बर्बादी पर तू कोई मलाल ना करना,
भूल जाना मेरा ख्याल ना करना,
हम तेरी ख़ुशी के लिए कफ़न ओढ़ लेंगे,
पर तुम मेरी लाश ले कोई सवाल मत करना!

Dard Shayari, Yu na barbad kar

Yu na barbad kar mujhe,
Baaz aaja mera dil dukhane se,
Main toh insan hu
Patthar bhi tut jata hai itna azmane se.

यूँ ना बर्बाद कर मुझे,
अब तो बाज़ आ दिल दुखाने से..
मै तो सिर्फ इन्सान हूँ,
पत्थर भी टूट जाता है, इतना आजमाने से।

Jakham hi jakham diye usne

अब क्यूँ तकलीफ होती है तुम्हें इस बेरुखी से,
तुम्हीं ने तो सिखाया है कि दिल कैसे जलाते हैं। 😔
Ab Kyun Takleef Hoti Hai Tumhien Iss Berukhi Se,
Tumhin Ne Toh Sikhaya Hai Ke Dil Kaise Jalate Hain. 😔

बिछड़ के हम से फिर किसी के भी न हो सकोगे,
तुम मिलोगे सब से मगर हमारी ही तलाश में। 💔
Bichhad Ke Humse Phir Kisi Ke Bhi Na Ho Sakoge,
Tum Miloge Sab Se Magar Humari Hi Talaash Mein. 💔

Sad Shayari, Barbad Kar Gaye Wo Zindagi Pyar

Sad Shayari, Barbad Kar Gaye Wo Zindagi Pyar

बर्बाद कर गए वो ज़िंदगी प्यार के नाम से,
बेवफाई ही मिली हमें सिर्फ वफ़ा के नाम से,
ज़ख़्म ही ज़ख़्म दिए उस ने दवा के नाम से,
आसमान रो पड़ा मेरी मोहब्बत के अंजाम से। 😔
(more…)

Gujari hui Zindagi ko kabhi yaad na kar, Shayari

गुजरी हुई जिंदगी को कभी याद ना कर,
तकदीर में जो लिखा है उसकी फरियाद ना कर,
जो होगा वो होकर रहेगा,
तु कल की फिकर में अपनी आज की हंसी बर्बाद ना कर! ✍📕

Gujari hui Zindagi ko kabhi yaad na kar,
Taqdir me jo likha hai uski fariyad na kar,
Jo hoga wo hokar rahega,
Tu kal ki Fikar me apni aaj ki hansi barbad na kar! ✍📕