Na kiya kar apne dard ko Shayari mein byaan

ना किया कर अपने दर्द को शायरी में ब्यान ऐ नादान दिल,
कुछ लोग टूट जाते हैं इसे अपनी दास्तान समझकर। 😔

Na kiya kar apne dard ko Shayari mein byaan aye nadan dil,
kuchh log toot jaate hain ise apni daastaan samajhkar. 😔

Love Shayari, Woh Rakh Le Kahin Apne Paas Humein

love shayari wo rakh le kahi apne pass

Woh Rakh Le Kahin Apne Paas Humein Qaid Karke,
Kaash Ke Humse Koi Aisa Gunaah Ho Jaaye. 💚💘

वो रख ले कहीं अपने पास हमें कैद करके,
काश कि हमसे कोई ऐसा गुनाह हो जाये। 💚💘

Sukun bhi paas hai apne, Shayari

सुकून
सुकून भी पास है अपने,
ग़मों का काफिला भी है,
लबों से कुछ नहीं कैहते,
मगर दिल में गिला भी है,
सुनायें किसको अपना दर्द,
कोई राज़दाँ तो हो..
ख़ुशी आँखों में है पर..
छुपा हआ आँसूओं का सिलसिला भी है।

Sad Shayari, Apne Seene Se Lagaye Huye Umeed

Apne Seene Se Lagaye Huye Umeed Ki Laash,
Muddaton Zeest Ko Nashad Kia Hai Main Ne,
Too Ne To Aik Hi Sadme Se Kia Tha Do Char,
Dil Ko Har Tarha Se Barbad Kia Hai Main Ne. 😔

अपने सीने से लगाए हुए उम्मीद की लाश,
मुद्दतों जीस्त को नाशाद किया है मैंने,
तूने तो एक ही सदमे से किया था दो-चार,
दिल को हर तरह से बर्बाद किया है मैंने! 😔

Dard Shayari, Woh to apne dard

Woh To Apne Dard Ro-Ro Ke Sunate Rahe,
Humari Tanhayion Se Ankh Churate Rahe,
Aur Hume Bewafa Ka Naam Mila..
Kyunki, Hum Har Dard Muskura Kar Chipate Rahe. 💔

वो तो अपने दर्द रो-रो के सुनते रहे,
हमारी तन्हाइयों से आँख चुराते रहे,
और हमें बेवफा का नाम मिला..
क्योंकि, हम हर दर्द मुस्कुरा कर छुपाते रहे! 💔

Sad Shayari, Sukun apne dilka

सुकून अपने दिलका मैंने खो दिया,
खुद को तन्हाई के समंदर मे डुबो दिया,
जो थी मेरे कभी मुस्कराने की वजह,
आज उसकी कमी ने मेरी पलकों को भिगो दिया.

Sukun apne dilka maine kho diya,
Khud ko tanhai ke samandar mai dubo diya,
Jo thi mere kabhi muskrane ki wajah,
Aaj uski kami ne meri palko ko bhigo diya.