Taklife to hajaro hai iss jamane mai

Taklife to hajaro hai iss jamane mai,
bas koi apna najar andaz kare to bardasht nahi hota..

तकलीफें तो हजारों है इस जमाने में,
बस कोई अपना नजर अंदाज करे बर्दाश्त नहीं होता!

Related Shayari: