दर्द भरी शायरी, धीरे धीरे सब दूर होते गए

Dard bhari Sad Shayari

Dard bhari Sad Shayari, Khushiyo Se Naraj Hai Meri Zindagi

खुशियों से नाराज़ है मेरी ज़िन्दगी,
बस प्यार की मोहताज़ है मेरी ज़िन्दगी,
हँस लेता हूँ लोगों को दिखाने के लिए,
वैसे तो दर्द की किताब है मेरी ज़िन्दगी।

Bewafa Shayari

Dard Bhari Shayari, Dheere Dheere Sab Dur Hote Chale Gaye

धीरे धीरे सब दूर होते गए
वक़्त के आगें मजबूर होते गए
रिस्तों में हमने ऐसी चोट खाई की
बस हम बेवफा और सब बेकसूर होते गए। 😥😴

अब भी ताज़ा है ज़ख़्म सीने में,
बिन तेरे क्या रखा है जीने में,
हम तो ज़िंदा हैं तेरा साथ पाने को,
वरना देर कितनी लगती है ज़हर पीने में!!

दोस्ती 🙋के 🤗बाद 👨‍❤️‍👨प्यार हो ☝️सकता 🌻है,
लेकिन 🙅प्यार 💔के 👱बाद दोस्ती 👫नहीं 😓हो 😭सकती,
क्योकि 🌡दवा ⏰जिन्दा 🚶रहने 🎈पर 💉असर 👍करती 🤔है,
मरने 😭के 😪बाद 🙅नही।

मत सताओ हमें हम सताए हुए हैं,
अकेला रहने का गम उठाये हुए हैं,
खिलौना समझ कर न खेलो हम से,
हम भी उसी खुदा के बनाये हुए हैं।💘

हो सके ☝ तो सम्भाल 😌 कर रखना वो लम्हे 😘
जो हमने 👫साथ बिताए ☝ थे..
क्यूंकि 😌 हम याद तो आएंगे मगर लौट कर😏 नही।

गुजारिश हमारी वह मान न सके,
मज़बूरी हमारी वह जान न सके,
कहते हैं मरने 😭के बाद भी याद रखेंगे,
जीते जी जो हमें पहचान न सके। 😢 💔

Related Shayari: