मोहब्बत करने वाले को, इनकार अच्छा नहीं लगता

Love Shayari, Khuda Bhi Na Jane Kaise Rishte

Love Shayari, Khuda Bhi Na Jane Kaise Rishte

खुदा भी न जाने कैसे रिश्ते बना देता है,
अंजानो को दिल में बसा देता है,
जिनको हम जानते भी न थे,
उन्हें जान से भी ज्यादा प्यारा बना देता है. 🌹❤❤

हम तो वो हैं जो तेरी बातें सुनकर तेरे हो गए थे
वो और होंगे जिन्हे मोहब्बत चेहरों से होती होगी…!! 💓

मोहब्बत करने वाले को, इनकार अच्छा नहीं लगता..
दुनियावालों को, इक़रार अच्छा नहीं लगता..
जब तक लड़का लड़की भाग ना जाये,
घरवालों को प्यार सच्चा नहीं लगता.

वह तो पानी की बूँद है जो आँखों से बह जाये,
आंसू तो वह है जो तड़प के आँखों मे ही रह जाये,
वह प्यार क्या जो लफ्ज़ो मे बयान हो,
प्यार तो वह है जो आखों मे नज़र आये. 😘😘😘

तेरे प्यार मे दो पल की जिंदगी बहुत है,
एक पल की हँसी और एक पल की खुशी बहुत है,
यह दुनिया मुझे जाने, या ना जाने,
तेरी आँखे मुझे पहचाने यही बहुत है.

याद है मुझे मेरी हर एक गलती,
एक तो ❤️मोहब्बत कर ली,
दुसरी तुमसे कर ली,👰
तिसरी❣️👰❣️ बेपनाह कर ली 🌸🌸🌸

दीवाने है तेरे नाम के इस बात से इंकार नहीं
कैसे कहे कि तुमसे प्‍यार नहीं कुछ तो कसूर है
आपकी आखों का हम अकेले तो गुनहगार नहीं!

मेरे दिल ने जब भी कभी कोई दुआ माँगी है
हर दुआ में बस तेरी ही वफ़ा माँगी है
जिस प्यार को देख कर जलते हैं यह दुनिया.
वाले तेरी मोहब्बत करने की बस वो एक अदा माँगी है।😢

अपनी तो मोहब्बत की यही कहानी है,
टूटी हुई कश्ती ठहरा हुआ पानी है,
एक फूल किताबोँ मेँ दम तोड़ चुका है,
मगर याद नहीँ आता ये किसकी निशानी है..

उन्हें चाहना हमारी कमजोरी है,
उन से नहीं कहे पाना हमारी मजबूरी है,
वो क्युं नहीं समझते हमारी खामोशी को,
क्या प्यार का इजहार करना जरूरी है..

Related Shayari: