Love Shayari, Husn ki ishq se

Husn ki ishq se jab jab baat hoti hai,
Mehfil mein unki baat se har baat hoti hai,
Wah kehte rahe koi baat nahin ham dono mein,
Par unki kahani se nai shuruat hoti hai.

हुस्न की इश्क से जब जब बात होती है,
महफिल में उनकी बात से हर बात होती है,
वह कहते रहे कोई बात नहीं हम दोनों में,
पर उनकी कहानी से नई शुरूआत होती है।

Related Shayari: