Zindagi par behtrin shayariyan, Zindagi ko hamesha muskura ke gujaro

मेरी खामोशियों में भी फसाना ढूँढ लेती है,
बड़ी शातिर है दुनिया मजा लेने का बहाना ढ़ूँढ लेती है।
Meri khamoshiyon mein bhi fasana dhoondh leti hai,
badi shatir hai duniya maja lene ka bahana dhoondh leti hai.

Zindagi par behtrin shayariyan, Zindagi Ko Hamesha Muskura Ke Gujaro

Zindagi par behtrin shayariyan, Zindagi Ko Hamesha Muskura Ke Gujaro

जिन्दगी को हमेशा मुस्कुरा के गुजारो,
क्योंकि आप नहीं जानते की.. यह कितनी बाकी है।
zindagi ko hamesha muskura ke gujaro,
kyonki aap nahi janate ki.. yah kitani baki hai.

अकेले ही काटना है मुझे ऐ जिन्दगी का सफर,
यूँ पल-दो-पल साथ चलकर मेरी आदत खराब न करो ।
Akele hi katna hai mujhe ai zindagi ka safar,
yo pal-do-pal sath chalkar meri aadat kharab na karo.

मुझे पतझड़ की कहानियाँ सुना के उदास न कर ऐ जिंदगी,
नए मौसम का पता बता.. जो गुजर गया, वो गुजर गया।
Mujhe patjhad ki kahani suna ke udaas na kar ai zindagi,
naye mausam ka pata bata.. jo gujar gaya, vo gujar gaya.

सांसे खर्च हो रही है बीती उम्र का हिसाब नहीं,
फिर भी जीए जा रहें हैं तुझे, जिंदगी तेरा जवाब नहीं।
Saanse kharch ho rahi hai beeti umar ka hisaab nahi,
phir bhi jiye ja rahe hain tujhe, zindagi tera jawab nahin.

जिंदगी में खत्म होने जैसा कुछ नहीं होता,
हमेशा एक नई शुरुआत आपका इंतजार करती है!
Zindagi mein khatm hone jaisa kuchh nahin hota,
hamesha ek nayi shuruaat aapaka intajaar karti hai!

हसरतें कुछ और हैं वक्त की इल्तजा कुछ और है कौन जी सका है..
ज़िन्दगी अपने मुताबिक दिल चाहता कुछ और है होता कुछ और है।
Hasraten kuchh aur hai waqt ki iltaja kuchh aur hai kaun jee saka hai..
zindagi apne mutabik dil chaahata kuchh aur hai hota kuchh aur hai.

Related Shayari: