Life Shayari, Nadi jab kinara

Nadi jab kinara chod deti hai,
tab raah ki chattan tak tod deti hai,
baat choti si bhi agar chubh jae dil me,
to jindgi ke raasto ko mod deti hai.

नदी जब किनारा छोर देती हैं,
राह की चट्टान तक तोर देती हैं,
बात छोटी सी अगर चुभ जाए दिल में तो,
जिंदगी के रास्तों को भी मोर देती हैं।

Related Shayari: