Subah hote hi jab duniya abaad hoti hai, Shayari

Subah hote hi jab duniya abaad hoti hai,
Aankh khulte hi aapki yaad hoti hai,
Khushiyon ke phool ho aapke aanchal mein,
Ye mere honthon pe pehli fariyaad hoti hai.

सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है,
आँख खुलते ही आपकी याद आती है,
खुशियों के फूल हो आपके आँचल में,
ये मेरे होंठों पे पहली फ़रियाद होती है।

Related Shayari: