Love Shayari, Betaab tamannaon ki

बेताब तमन्नाओ की कसक रहने दो!
मंजिल को पाने की कसक रहने दो!
आप चाहे रहो नज़रों से दूर!
पर मेरी आँखों में अपनी एक झलक रहने दो!

Betaab tamannaon ki kasak rehne do,
Manzil ko paane ki lalak rehne do,
Aap bhale raho nazron se dur,
Par band nazron me apni pyari si zhalak rahne do.

Related Shayari: