Dard Shayari, Wafa per humne

वफ़ा पर हमने घर लुटाना था लेकिन,
वफ़ा लौट गयी लुटाने से पहले,
चिराग तमन्ना का जला तो दिया था,
मगर बुझ गया जगमगाने से पहले।

Wafa par hamne ghar lutana tha lekin,
Wafa lout gai lutane se pehle,
Cheerag tamanna ka jala to diya tha,
Magar bujh gaya jagmagane se pehle!

Related Shayari: