Attitude Shayari, Anjaam Ki Parwaah

Anjaam Ki Parwaah Hoti Toh,
Hum Mohabbat Karna Chhod Dete,
Mohabbat Mein Toh Zid Hoti Hai,
Aur Zid Ke Bade Pakke Hain Hum. ☝️

अंजाम की परवाह होती तो,
हम मोहब्बत करना छोड़ देते,
मोहब्बत में तो जिद्द होती है,
और जिद्द के बड़े पक्के हैं हम। ☝️

Related Shayari: