Sad Shayari, Kash woh samjhte is dil ki tadap ko

Yaad Shayari

Kash woh samjhte is dil ki tadap ko,
To yun humein ruswa na kiya hota,
Unki ye berukhi bhi manzoor thi hame,
Bas ek baar humein samjh liya hota। 💔💘

काश वह समझते इस दिल की तड़प को,
तो यूँ हमें रुसवा ना किया होता,
उनकी ये बेरुखी भी मंज़ूर थी हमें,
बस एक बार हमें समझ लिया होता। 💔💘

Yaad Shayari, Na Door Humse Jaya Karo Dil Tadap Jata Hai

Na Door Humse Jaya Karo, Dil Tadap Jata Hai,
Aapke Khayal Mein He Humara Din Guzar Jata Hai,
Puchta Hai Yah Dil Ek Sawal Aapse..
Kya Door Rahkar Bhi Aapko Humara Khayal Aata Hai? 😔

ना दूर हमसे जाया करो, दिल तड़प जाता है,
आपके ख्यालों में ही हमारा दिन गुज़र जाता है,
पूछता है यह दिल एक सवाल आपसे,
कि क्या दूर रहकर भी आपको हमारा ख्याल आता है!! 😔

Love Shayari, Tadap ke dekho

Tadap ke dekho kisi ki chahat me,
To samajh paoge ke intezar kya hota hai,
Yuhi mil jaye agar koi bina tadpe,
To kaise jan paoge ke.. pyar kya hota hai,

तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चले कि इंतज़ार क्या होता है,
यूँ ही मिल जाये अगर कोई बिना तड़पे,
तो कैसे पता चले के.. प्यार क्या होता है!

Hindi sad Shayari, Tadap K Dekh Kisi Ki Chahat Mein

तडप के देख किसी की चाहत मे,
तो पता चले के इंतज़ार क्या होता है,
यु मिल जाए अगर कोई बिना तडप के,
तो कैसे पता चले के प्यार क्या होता है…

Tadap K Dekh Kisi Ki Chahat Mein,
To Pata Chale Intzaar Kya Hota Hai,
Yu Mil Jaaye Agar Koi Bina Tadap Ke,
To Kaise Pata Chale Pyar Kya Hota Hai.

Yaad Shayari, Tum usako yaad kyu karate ho

पूछा किसी ने?
तुम उसको याद क्यू करते हो,
जो तुम्हे याद ही नहीं करते,
तड़प कर दिल बोला,
रिश्ते निभाने वाले मुकुबाला नहीं करते! 💘

Pucha kisi ne?
tum usako yaad kyu karate ho,
jo tumhe yaad hi nahin karate,
tadap kar dil bola,
rishte nibhane waale mukubaala nahin karte! 💘

Teri yaado ne paigaam bhi aisa bheja, Shayari

मेरे ख्वाबो का अब कोई आशियाना नहीं है,
अपने दर्दो को मुझे अब मिटाना नही है,
मेरी मजबूरियो का फसाना भी क्या अजीब है,
मुझे रोना है पर किसी को बताना नही है,
तेरी यादो ने पैगाम भी ऐसा भेजा ए-सनम,
तडपना है हर पल पर एहसास जताना नहीं है! 😔💕

Mere khwabo ka ab koi aashiyana nahin hai,
apane dardo ko mujhe ab mitana nahi hai,
meri majbooriyo ka fasana bhi kya ajeeb hai,
mujhe rona hai par kisi ko batana nahi hai,
teri yaado ne paigaam bhi aisa bheja e-sanam,
tadapna hai har pal par ehasaas jatana nahin hai! 😔💕