Mohabbat Shayari in Hindi

Shayari123.com Provides All Latest Mohabbat Shayari in Hindi

Mohabbat Shayari

Apni to mohabbat ki itni kahani hai, Shayari

Apni to mohabbat ki itni kahani hai,
Tooti hui kashti aur thera hua pani hai,
Ek phool kitabon me dam tor chuka hai,
Magar kuch yaad nahi aata yeh kis ki nishani hai. 💔

अपनी तो मोहब्बत की यही कहानी है,
टूटी हुई कश्ती ठहरा हुआ पानी है,
एक फूल किताबोँ मेँ दम तोड़ चुका है,
मगर याद नहीँ आता ये किसकी निशानी है। 💔

Love Shayari, Mohabbat To Sirf Ek Ittefaq Hai

Mohabbat To Sirf Ek Ittefaq Hai,
Ye To Do Dilo Ki Mulakat Hai,
Mohabbat Ye Nahi Dekhti Ki Din Hai Yaa Raat Hai,
Ismein To Sirf Wafadari Aur Jajbaat Hai! 💖

मोहब्बत तो सिर्फ एक इत्तेफाक है,
ये तो दो दिलों की मुलाकात है,
मोहब्बत ये नहीं देखती कि दिन है या रात है,
इसमें तो सिर्फ वफादारी और जज़्बात है। 💖

HIndi Poem, Tere libas se mohabbat

Tere libas se mohabbat ki hai,
tere ehsas se mohabbat ki hai,
tu mere paas nahi fir bhi,
maine teri yaad se mohabbat ki hai,
kabhi tune bhi mujhe yaad kiya hoga,
maine un lamho se mohabbat ki hai,
jinme ho sirf teri aur meri baatein,
maine un alfaaz se mohabbat ki hai,
jo mahkate ho teri mohabbat se,
maine un jazbat se mohabbat ki hai,
aaoge kab wapis meri jaan,
maine tere intezaar se mohabbat ki hai!

तेरे लिबास से मोहब्बत की है,
तेरे एहसास से मोहब्बत की है,
तू मेरे पास नहीं फिर भी,
मैंने तेरी याद से मोहब्बत की है,
कभी तू ने भी मुझे याद किया होगाी,
मैंने उन लम्हों से मोहब्बत की है,
जिन में हो सिर्फ तेरी और मेरी बातें,
मैंने उन अल्फाज से मोहब्बत की है,
जो महकते हो तेरी मोहब्बत से,
मैंने उन जज्बात से मोहब्बत की है,
तुझ से मिलना तो अब एक ख्वाब लगता है,
इसलिए मैंने तेरे इंतजार से मोहब्बत की है.

Kaghaj Par Nahi Likhte Kuch Raaz Mohabbat Ke, Shayari

Kaghaj Par Nahi Likhte Kuch Raaz Mohabbat Ke,
Pal Bhar Mein Bikhar Jaate Hain Alfaaz Mohabbat Ke,
Use Toot Kar Chaha Toh Hum Khud Hi Bikhar Gaye,
Aise Badal Jaate Hain Andaaj Mohabbat Ke,
Un ki Saheliyo Se Zara Kahna, Unhe Sath Hi Laaye,
Mujhe Phir Se Sajaane Hain Kuch Khwab Mohabbat Ke,
Apni To Saase Dost Usi Waqt Mein Thee Shaamil,
Kyun Baithe Huye Chor Gaye Kuch Haath Mohabbat Ke.