Sad Shayari, Intezar uska jiske aane ki aas ho

Intezar uska jiske aane ki aas ho,
khushbu us phool ki jo mere paas ho,
manzil na mil saki to koi baat nahin,
gham bhi usi shakhs ka hai jise pyar ka ehsaas ho.

इंतजार उसका जिसके आने की कोई आस हो,
खुश्बू भी उस फूल की जो मेरे पास हो,
मंज़िल ना मिल सकी हमे तो कोई बात नही,
गम भी उसी शख्स का होता है जिसे प्यार का एहसास हो।