Sad Shayari, Apne Seene Se Lagaye Huye Umeed

Apne Seene Se Lagaye Huye Umeed Ki Laash,
Muddaton Zeest Ko Nashad Kia Hai Main Ne,
Too Ne To Aik Hi Sadme Se Kia Tha Do Char,
Dil Ko Har Tarha Se Barbad Kia Hai Main Ne. 😔

अपने सीने से लगाए हुए उम्मीद की लाश,
मुद्दतों जीस्त को नाशाद किया है मैंने,
तूने तो एक ही सदमे से किया था दो-चार,
दिल को हर तरह से बर्बाद किया है मैंने! 😔