Rain-Barish Shayari (New Shayari)

Rain Barish Shayari, Romantic Barish Shayari, Barsat Shayari, Miss You Barish Shayari, Love Rain Shayari, Sad Rain Shayari, Best Rain Shayari in Hindi.


Sad Shayari, Khush nasib hote hain badal

खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी.. मिलने को तरसते हैं.

Khush nasib hote hain badal,
Jo dur rehkar bhi zameen par baraste hain,
Aur ek badnasib hum hain,
Jo ek hi duniya mei rehkar bhi.. Milne ko taraste hain.

Barish 2 Line Shayari Collection

पहले रिम-झिम फिर बरसात और अचानक कडी धूप,
मोहब्बत ओर अगस्त की फितरत एक सी है..!!


किस मुँह से इल्ज़ाम लगाएं बारिश की बौछारों पर,
हमने ख़ुद तस्वीर बनाई थी मिट्टी की दीवारों पर !!


बारिश और महोबत दोनों ही यादगार होते हे,
बारिश में जिस्म भीगता हैं और महोबत मैं आँखे.

Barish Shayari, Mosam hai barish ka

मौसम है बारिश का और याद तुम्हारी आती है,
बारिश के हर कतरे से आवाज़ तुम्हारी आती है,
बादल जब गरजते हैं, दिल की धड़कन बढ़ जाती है,
दिल की हर इक धड़कन से आवाज़ तुम्हारी आती है,
जब तेज हवायें चलती हैं तो जान हमारी जाती है,
मौसम है कातिल बारिश का और याद तुम्हारी आती है|

Mausam Hai Barish Ka Aur Yaad Tumhari Aati Hai,
Barish Ke Har Qatre Se Awaz Tumhari Aati Hai.
Badal Jab Garajte Hain, Dil Ki Dharkan Badh Jati Hai,
Dil Ki Har Ek Dharkan Se Awaz Tumhari Aati Hai.
Jab Tez Hawayein Chalti Hai To Jaan Hamari Jati Hai,
Mausam Hai Barish Ka Aur Yaad Tumhari Aati Hai.

Ye Baarisho’n K Mausam
Bas Tum Hi Se Hyn Wabasta
K Mohabbato’n Main Baarish
Bari Lazmi Si Shey Hy
Chahey Aasman Se Barsey
Chahey Chashm-e-Nam Se

Barish Ka Ye Mousam Koch Yaad Dilata Hai,
Kisi Kay Saath Honay Ka Ehsaas Dilata Hai,

Fiza Bhi Sard Hai Yaadain Bhi Taaza Hai,
Ye Mousam Kisi Ka Pyaar Dil May Jagata Hai,

Bheegi Hoye Raatain Khamosh Si Baatain,
Aisay Main Koch Kaho Tu Her Lafz Madhem Ho Jata Hai,

Barsat Ki Hain Bondain, Bondon May Hai Khushbo,
Ye Lumha Tu Dil Ka Ehsaas Chuu Jata Hai,

Aisay Main Tum Bhi Keh Do Dil Ki Baat,
Ye Mousam Tu Pal Bhar Main Beet Jata Ha.

Sad Baarish Shayari, Agar Bhigne Ka Itna Hi Shoq Hai

Agar Bhigne Ka Itna Hi Shoq Hai Baarish Me,
To Dekho Na Meri Aankhon Me,
Baarish To Har Ek Ke Liye Hoti Hai,
Lekin Ye Aankhein Sirf Tumhare Liye Barasti Hain.

Sad Barish Shayari, Khud bhi rota hai

खुद भी रोता है,
मुझे भी रुला के जाता है,
ये बारिश का मौसम,
उसकी याद दिला के जाता है।

Sad Rain Shayari, Aaj bheegi hai palke

आज भीगी है पलके किसी की याद में
आकाश भी सिमट गया हैं अपने आप में
ओस की बूँद ऐसी गिरी है ज़मीन पर
मानो चाँद भी रोया हो उनकी याद में.…

Aaj bhigi hai palke kisi ki yaad mein,
Aakash bhi simat gaya hai apne aap mein,
Oas ki boonde aisi giri hai jameen per,
Maano chand bhi roya ho uski yaad mein.

Barish Shayari, Aaj mausam kitna khushgawar

आज मौसम कितना खुश गंवार हो गया,
खत्म सभी का इंतज़ार हो गया,
बारिश की बूंदे गिरी कुछ इस तरह से,
लगा जैसे आसमान को ज़मीन से प्यार हो गया|

Sad Barish Shayari, Badalon se keh do

बादलों से कह दो,
जरा सोच समझ के बरसे,
अगर हमें उसकी याद आ गई,
तो मुकाबला बराबरी का होगा|

Badalon se keh do,
Jara soch samjh kar barse,
Agar mujhe unki yaad aa gayi,
To mukabla barabari ka hoga.

Barish Shayari, Ae Barish mere aapno ko

🌂 ऐ बारिश मेरे अपनो को यह पैगाम देना 💦
🌂 खुशियों का दिन हँसी की शाम देना, 💦
🌂 जब कोई पढे प्यार से मेरे इस पैगाम को, 💦
🌂 तो उन को चेहरे पर प्यारी सी मुस्कान देना.. 💦
बारिश की बधाई हो दोस्तों

Sawan Shayari, Rim zim to hai

रिमझिम तो है मगर सावन गायब है,
बच्चे तो हैं मगर बचपन गायब है..!!
क्या हो गयी है तासीर ज़माने की यारों
अपने तो हैं मगर अपनापन गायब है !