Yaad Shayari, Palko ko kabhi hamne

पलकों को कभी हमने भिगोए ही नहीं,
वो सोचते हैं की हम कभी रोये ही नहीं,
वो पूछते हैं कि ख्वाबो में किसे देखते हो,
और हम हैं की उनकी यादो में सोए ही नहीं!

Palko ko kabhi hamne bhigoya hi nahi,
Wo sochte hai kr hum kabhi roye hi nahi,
Wo puchte hai ki khwabo me kise dekhte ho,
Aur hum hai ki unki yado me soye hi nahi..!

Love Shayari, Tanhaiyon mein muskurana

तन्हाईयों में मुस्कुराना इश्क है,
एक बात को सबसे छुपाना इश्क है,
यु तो नींद नहीं आती हमें रात भर,
मगर सोते-सोते जागना और जागते-जागते सोना इश्क है.

Tanhaiyon mein muskurana ishq hai,
Ek baat ko sab se chhupana ishq hai,
Yun to neend nahi aati hamein raat bhar,
Magar sote sote jagna or jagte jagte sona hi ishq hai.

Love Shayari, Najar ne najar se mulaqa

नज़र ने नज़र से मुलाक़ात कर ली,
रहे दोनों खामोश पर बात करली,
मोहब्बत की फिजा को जब खुश पाया,
इन आंखों ने रो रो के बरसात कर ली !!

Najar ne najar se mulaqat kar li,
rahe khamosh dono aur baat kar li,
mohabbat ki fizza ko jab khush paya,
en aankho ne ro ro ke barsat kar li.

Love Shayari, Tujhe dekhu to sara jaha

तुझे देखु तो सारा जहाँ रंगीन नज़र आता है,
तेरे बिना दिल को चेन किसको आता है,
तुम ही हो मेरे दिल की धड़कन,
तेरा बिना यह संसार आवारा नज़र आता है!

Tujhe Dekhu To Sara Jaha Rangeen Nazar Aata Hai,
Tere Bina Dil Ko Chain Kaha Aata Hai,
Tum Hi Ho Mere Dil Ki Dharkan,
Tere Bina Ye Sansar Suna Suna Nazar Aata Hai!!

Sad Shayari, Ulfat ka aksar yahi dastur

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है!

Ulfat ka aksar yahi dastur hota hai.
Jise chaho wahi humse dur keyo hota hai.
Dil tut kar keyo bikharta hai is kadar.
Jaise kanch ka khilauna chur chur hota hai.

Sad Shayari, Hum Simate gaye

हम सिमटते गए उनमें और वो हमें भुलाते गए..
हम मरते गए उनकी बेरुखी से, और वो हमें आजमाते गए ..
सोचा की मेरी बेपनाह मोहब्बत देखकर सीख लेंगी वफाएँ करना ..
पर हम रोते गए और वो हमें खुशी-खुशी रुलाते गए..!

Hindi Shayari, Fark Hota hai khuda aur Fakir

फर्क होता है खुदा और फ़क़ीर में,
फर्क होता है किस्मत और लकीर में..
अगर कुछ चाहो और न मिले तो समझ लेना..
कि कुछ और अच्छा लिखा है तक़दीर में।

Fark Hota hai khuda aur Fakir me..
Fark hota hai kismat aur Lakir me,
Agar kuch Chaho Aur na Mile To samaj Lena ki..
kuch aur Accha Likha hai Takdir me.

Sad Shayari, Bahut chaha usko

बहुत चाहा उसको जिसे हम पा न सके,
ख्यालों में किसी और को ला न सके.
उसको देख के आंसू तो पोंछ लिए,
लेकिन किसी और को देख के मुस्कुरा न सके.

Bahut chaha usko jise hum pa na sake,
Khayalon me kisi aur ko la na sake.
Usko dekh ke aansoo to ponchh liye,
Lekin kisi auor ko dekh ke muskura na sake.

Yaad Shayari, Todh do na wo qasam

तोड़ दो न वो क़सम जो खाई है,
कभी कभी याद करलेने मैं क्या बुराई है,
याद आप को किये बिना रहा भी तो नहीं जाता,
दिल में जगा अपने ऐसी जो बनाई है.

Todh do na wo qasam jo khai hai
kabhi kabhi yaad karlene main kya burai hai
yaad aap ko kiye bina raha bhi to nahi jata
dil main jaga apne aisi jo banai hai

Hindi Shayari, Chahat wo nahi jo

चाहत वो नहीं जो जान देती है,
चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है,
ऐ दोस्त चाहत तो वो है,
जो पानी में गिरा आंसू पहचान लेती हैं.

Chahat wo nahi jo jaan deti hai,
Chahat wo nahi jo muskaan deti hai,
Ae dost chahat to wo hai,
Jo pani mein gira aansoo pehchan leti hein.