Love Shayari, Jab koi khayal

Jab koi khayal dil se takrata hai,
Dil na chah kar bhi khamosh rah jata hai,
Koi sab kuchh kehkar pyar jatata hai,
Koi kuchh na kehkar bhi sab bol jata hai. 💖

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है,
दिल न चाह कर भी खामोश रह जाता है,
कोई सब कुछ कहकर प्यार जताता है,
कोई कुछ न कहकर भी सब बोल जाता है। 💖

Love Shayari, Jab koi khayal