Love Shayari, Hoti hai mehsoos teri maujudgi

Love Shayari, Hoti hai mehsoos teri maujudgi

Hoti hai mehsoos teri maujudgi har pal,
tu har Waqt mujh mein shumaar sa hai,
mere khuda ne mujhko bakhshi hain jitani saansen,
un saanson ka too bhi hissedaar sa hai. 💕

होती है महसूस तेरी मौजूदगी हर पल,
तू हर वक्त मुझमें शुमार सा है,
मेरे खुदा ने मुझको बख्शी हैं जितनी सांसें,
उन सांसों का तू भी हिस्सेदार सा है। 💕

Love Shayari, Hoti hai mehsoos teri maujudgi