Love Shayari, Unke Deedar Ke Liye

Unke Deedar Ke Liye Dil Tadapta Hai,
Unke Intezar Mein Dil Tarasta Hai,
Kya Kahein Is Kambakht Dil Ko,
Jo Apna Hokar Bhi Kisi Aur Ke Liye Dhadkata Hai। 💕

उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है,
उनके इंतजार में दिल तरसता है,
क्या कहें इस कम्बख्त दिल को..
अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है। 💕

Love Shayari, Unke Deedar Ke Liye