Naseeb Shayari, Jo log ek tarfa pyar karte hai

जो लोग एक तरफा प्यार करते है
अपनी ज़िन्दगी को खुद बर्बाद करते है !
नहीं मिलता बिना नसीब के कुछ भी,
फिर भी लोग खुद पर अत्याचार करते है !!

Naseeb Shayari, Jo log ek tarfa pyar karte hai