Miss You Shayari, Aansoo ki boondein hain

आंसू की बुँदे हैं या आँखों में नमी हैं !
न ऊपर आसमान हैं न निचे जमीन हैं !!
ये कैसा मोड़ हैं जिंदगी का…..
आपकी ही जरुरत हैं और आपकी ही कमी हैं…!

Aansoo ki boondein hain ya aankhon mein nami hai,
Na upper aasman hai na neeche zameen hai,
Ye kaisa mod hai zindagi ka,
Aapki hi zarurat hai aapki hi kami hai.