Maa Shayari, Sadqa bhi de diya hai nazar bhi utar di,

Sadqa bhi de diya hai nazar bhi utar di,
Dault sukuno chain ki sab mujhpe vaar di,
Kal sham maie kya kaha tabiyat kharab hai,
Maa ne tamam raat dua mein guzaar dee. 👍 👌

सदक़ा भी दे दिया है नज़र भी उतार दी,
दौलत सुकूनो चैन की सब मुझपे वार दी,
कल शाम मैंने क्या कहा तबीयत ख़राब है,
माँ ने तमाम रात दुआ में गुज़ार दी! 👍 👌