Dekha fir raat aa gayi, Shayari

देखा फिर तो रात याद आ गयी,
गुड़ नाईट कहने की बात याद आ गयी,
हम बैठे थे सितारों की पनाह में,
जब चाँद को देखा तो आप की याद आ गयी.

Dekha fir raat aa gayi,
Good-night kehne ki bat yaad aa gyi,
Hum baithe the sitaro ki panah mein,
Chand ko dekha to aapki yaad aa gyi.
Gud Night Friend