Dard Shayari, Wo Sath The

वो साथ थे तो
एक लफ़्ज़ ना निकला
लबों से,
दूर क्या हुए
कलम ने क़हर मचा दिया..!!

Wo Sath The to
Ek lafj na nilkala
Laboo se,
Dur kya huye
Kalam ne keher macha diya..!!