Hindi Shayari in Hindi

Hindi Shayari, Hindi Font Shayari, New Hindi Shayari 2017, Best Hindi Shayari for Whatsapp, Funny Hindi Shayari, Latest Hindi Shayri, Hindi Love Shayari, Hindi Sad Shayari.


Hindi Shayari, Sabki apni apni

Sabki apni apni jeene ki shailee hai,
Kisi ki chaadar saaf kisi ki maili hai,
Saj tak sulajha nahi paya hai koo,
Zindagi to bas ek ansuljji paheli hai.

सबकी अपनी अपनी जीने की शैली है,
किसी की चादर साफ किसी की मैली है,
आज तक सुलझा नहीं पाया है कोई,
जिंदगी तो बस एक अनसुलझी पहेली है।

Funny Shayari, Yeh Jo Ladkiyon Ke

Yeh Jo Ladkiyon Ke Baal Hote Hain,
Ladkon Ko Fasaane Ka Jaal Hote Hain.
Khoon Chus Leti Hain Ladkon Ka Saara,
Tabhi Toh Inke Honth Laal Hote Hain.

ये जो लड़कियों के बाल होते हैं,
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं,
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा,
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं।

HIndi Shayari, Saath na rehne se

Saath na rehne se Rishte nahi tuta karte,
Waqt ke hath se Lamhe nahi chhuta karte,
Log kehte hain mera Sapna toot gaya,
Toot ti neend hai Sapne nahi toota karte.

साथ ना रहने से रिश्ते टूटा नहीं करते,
वक़्त की धुंध से लम्हे टूटा नहीं करते,
लोग कहते हैं कि मेरा सपना टूट गया,
टूटी नींद है.. सपने टूटा नहीं करते।

2 Line Shayari Collection #177

चलो फ़िर से हौले से मुस्कुराते हैं,
बिना माचिस के ही लोगों को जलाते हैं।


भरोसा क्या करना गैरों पर,
जब गिरना और चलना है अपने ही पैरों पर।


ये सर्द शामें भी किस कदर ज़ालिम है,
बहुत सर्द होती है, मगर इनमें दिल सुलगता है।


तोड़ा कुछ इस अदा से तालुक़ उस ने ग़ालिब,
कि सारी उम्र हम अपना क़सूर ढूँढ़ते रहे।


उसकी आंखे इतनी गहरी थी की,
तैरना तो आता था मगर डूब जाना अच्छा लगा।


खोजती है निग़ाहें उस चेहरे को,
याद में जिसकी सुबह हो जाती है।


चलो हो गयी रात अब फिर,
दिल के किसी कोने में उसकी याद उमड़ आएगी।


खेलना अच्छा नहीं किसी के नाज़ुक दिल से,
दर्द जान जाओगे जब कोई खेलेगा तुम्हारे दिल से। ❤


ऐ चाँद चला जा क्यूँ आया है तू मेरी चौखट पर,
छोड़ गया वो शख्स जिस के धोखे मे तुझे देखते थे।🌹


ये नज़र चुराने की आदत आज भी नहीं बदली उनकी,
कभी मेरे लिए ज़माने से और अब ज़माने के लिए हमसे।

2 Line Shayari Collection #176

ज़माने में बस ये दो हादसे नही होते,
हम तुमसे जुदा, तुम हमारे नही होते। 💔


क़लम जब तुमको लिखती है,
दख़ल-अंदाजी फ़िर हम नहीं करते।


तेरी याद में मेरी कलम भी रो पड़ी तू ही बता,
मैं कैसे कह दूं कि मुझे तुझसे मोहब्बत नहीं।


खुश हूँ कि मुझको जला के तुम हँसे तो सही, 
मेरे न सही किसी के दिल में बसे तो सही।


नहीं फुर्सत यकीं मानो हमें कुछ और करने की,
तेरी यादें, तेरी बातें बहुत मसरूफ़ रखती है। 💕


मुझे भी पता है कि तुम मेरी नहीं हो,
इस बात का बार बार एहसास मत दिलाया करों।


रब ना करें इश्क़ की कमी किसी को सताए,
प्यार करो उसी से जो तुम्हें, दिल की हर बात बताये।


कोई मजबूरी होगी जो वो याद नहीं करते,
सम्भल जा ऐ दिल तुझे तो रोने का बहाना चाहिए।


तुझे बर्बाद कर दूँगी, अभी भी लौट जा वापिस,
मोहब्बत नाम है मेरा मुझे क़ातिल भी कहते हैं।


दोस्ती का फर्ज इस तरह निभाया जायेँ,
अगर रहीम रहेँ भूँखा तो राम से भी ना खाया जायेँ।

2 Line Shayari Collection #175

महफ़िल में कई शायर है तो सुनाओ,
हमे वो शायरी जो दिल के आर पार हो जाये।


जिसका ये ऐलान है कि वो मज़े में है,
या तो वो फ़कीर है या फिर नशे में है।


इश्क न हुआ कोहरा हो जैसे,
तुम्हारे सिवा कुछ दिखता ही नहीं।


एक हसरत थी की कभी वो भी हमे मनाये,
पर ये कम्ब्खत दिल कभी उनसे रूठा ही नही।


अधूरा ही रह जाता है हर अल्फाज,
मेरी शायरी का तेरे अहसास की खुश्बू के बिना।


कभी मैं तो कभी ये बात बदल रही है,
कमबख्त नींद से मेरी लड़ाई चल रही है।


दिल अधूरी सी कहानियों का अंत ढूंढता रहा,
और वो कोरा पन्ना मुझे देर तक घूरता रहा।


टूटे हुए दिल भी धड़कते है उम्र भर,
चाहे किसी की याद में या फिर किसी फ़रियाद में।


जिस्म से रूह तक जाए तो हकीकत है इश्क,
और रूह से रूह तक जाए तो इबादत है इश्क़।


शक होता है जिनको अपने मर्द होने पर
शायद वो ही मासूमों पर मर्दानगी आजमाते हैं।

2 Line Shayari Collection #174

दोष कांटो का कहाँ हमारा है जनाब,
पैर हमने रखा वो तो अपनी जगह पे थे।


ये इश्क है जनाब यहा इंसान निखरता भी,
कमाल का है और बिखरता भी कमाल का है।


कितने ही दिल तोड़ती है ये फरवरी,
यूं ही नही बनाने वाले ने इसके दिन घटाये होंगे।


हाल यह है के तेरी याद में गम हूँ,
सब को मेरी और मझे को तेरी पड़ी रहती है।


सच कहू तो में आज भी इस सोच में गुम हूँ,
में तुम्हे जीत तो सकता था जाने हरा क्यों।


हाथ पर हाथ रखा उसने तो मालुम हुआ,
अनकही बात को किस तरह सुना जाता है।


जिंदगी में कुछ ऐसे लोग भी मिलते है,
जिन्हें हम पा नहीं सकते सिर्फ चाह सकते हैं।


आज बता रहा हूँ नुस्खा-ए-मौहब्बत ज़रा गौर से सुनो,
न चाहत को हद से बढ़ाओ न इश्क़ को सर पे चढ़ाओ।


जिन्हें सांसो की महक से इश्क महसूस ना हो,
वो गुलाब देने भर से हाल-ए-दिल को क्या समझेंगे।


बड़ी ख़ामोशी से गुज़र जाते हैं हम एक दूसरे के करीब से,
फिर भी कमबख्त दिलों का शोर सुनाई दे ही जाता है।

2 Line Shayari Collection #173

फूँक डालूँगा किसी रोज़ ये दिल की दुनिया,
ये तेरा ख़त तो नहीं है कि जला भी न सकूँ।


अगर नींद आ जाये तो सो भी लिया करो,
रातों को जगने से मोहब्बत लोटा नहीं करती।


मौत ने आँखें मिलाई थी कई बार मुझसे,
पर तेरा दीवाना किसी और पे मरता कैसे।


थक गया है चाहतों का वजुद अब कोई,
अच्छा भी लगे तो हम इजहार नही करते।


पहले सौ बार कभी इधर कभी उधर देखा है,
तब कहीं डर के तुझे एक नज़र देखा है।


उम्र छोटी है तो क्या ज़िंदगी का हरेक मंज़र देखा है,
फरेबी मुस्कुराहटें देखी हैं बगल में खंजर देखा।


गलत सुना था कि मोहब्बत आँखों से होती है,
दिल तो वो भी चुरा लेते हैं जो पलकें नहीं उठाते।


मत खाओ कसमे सारी ज़िन्दगी साथ निभाने की,
हम ने साँसो को भी जुदा होते देखा है।


जो मशहूर हुए सिर्फ उन्होंने ही तो मोहब्बत नहीं की
कुछ लोग चुपचाप भी तो क़त्ल हुए है मोहब्बत के हाथोँ।


नींद भी नीलाम हो जाती हैं दिलों की महफ़िल में जनाब,
किसी को भूल कर सो जाना इतना आसान नहीं होता।

Hindi Shayari, Kashti Hai Purani

Kashti Hai Purani Magar Dariya Badal Gaya,
Meri Talash ka Bhi To Jariya Badal gaya,
Na Shaql Hi Badli Na Badla Mera Kirdar,
Bas Logo Ke Dekhne Ka Najarya Badal gaya.

कश्ती है पुरानी मगर दरिया बदल गया,
मेरी तलाश का भी तो जरिया बदल गया,
ना शक्ल बदली ना अक्ल बदली,
बस लोगों के देखने का नजरिया बदल गया।

2 Line Shayari Collection #172

हमें भी आते है अंदाज़ दिल तोड़ने के,
हर दिल में ख़ुदा बसता है यही सोचकर चुप हूँ।


मंजिल का नाराज होना भी जायज था,
हम भी तो अजनबी राहों से दिल लगा बैठे थे।


रात भर तारीफ करता रहा तेरी चाँद से,
चाँद इतना जला कि सुबह तक सूरज हो गया।


तुम और तुम्हारी हर बात मेरे लिए ख़ास हैं,
यहीं शायद मोहब्बत का पहला अहसास हैं।


मिट जाते है वो औरों को मिटाने वाले,
लाश कहा रोती है रोते हैं जलाने वाले।


दिल टूटा है सम्भलने में कुछ वक्त तो लगेगा साहिब,
हर चीज़ इश्क़ तो नहीं कि एक पल में हो जाये।


दिल टूटा है सम्भलने में कुछ वक्त तो लगेगा साहिब,
हर चीज़ इश्क़ तो नहीं कि एक पल में हो जाये।


हर रिश्ते मे सिर्फ नूर बरसेगा..
शर्त बस इतनी है कि रिश्ते में शरारतें करो साजिशें नहीं।


मैं ना जानू इबादत, मुझे माफ़ कर देना ऐ मेरे खुदा,
मैं तो तेरे दर पे आता हूँ, उसकी गली से गुजरने के लिए।


ख्वाब, ख्याल, मोहब्बत, हक़ीक़त, गम और तन्हाई,
ज़रा सी उम्र मेरी.. किस-किस के साथ गुज़र गयी। 🍁