Dard SHayari, Lajawab hai

Lajawaab hai meri zindagi ka fasana,
Koi seekhe mujh se har pal muskurana,
Koi meri hansi ko najar na lagana,
Bahut dard seh kar seekha hai ham ne muskurana.

लाजवाब है मेरी जिंदगी का फसाना,
कोई सीखे मुझसे हर पल मुस्कुराना,
पर कोई मेरी हंसी को नजर न लगाना,
बहुत दर्द सहकर सीखा है हम ने मुस्कुराना।

Dard SHayari, Lajawab hai