Search Results for: Talash

Sad Shayari, Mohabbat Ki Talash

मोहब्बत की तलाश मैं निकले हो तुम
अरे ओ पागल…
मोहब्बत खुद तलाश करती है…
जिसे बर्बाद करना हो|

Sad Shayari, Wafa ki talash karte rahe hum

वफ़ा की तलाश करते रहे हम
बेबफाई में अकेले मरते रहे हम,

नहीं मिला दिल से चाहने वाला
खुद से ही बेबजह डरते रहे हम,

लुटाने को हम सब कुछ लुटा देते
मुहब्बत में उन पर मिटते रहे हम,

खुद दुखी हो कर खुश उन को रखा
तन्हाईयों में सांसे भरते रहे हम,

वो बेवफाई हम से करते ही रहे
दिल से उन पर मरते रहे हम|

Bewafa Shayari, Wafa ki talash

वफ़ा की तलाश करते रहे हम
बेबफाई में अकेले मरते रहे हम,

नहीं मिला दिल से चाहने वाला
खुद से ही बेबजह डरते रहे हम,

लुटाने को हम सब कुछ लुटा देते
मुहब्बत में उन पर मिटते रहे हम,

खुद दुखी हो कर खुश उन को रखा
तन्हाईयों में सांसे भरते रहे हम,

वो बेवफाई हम से करते ही रहे
दिल से उन पर मरते रहे हम|

Udas Shayari, Talash Uski Karo

Talash Uski Karo Jo Kisi Ke Paas Na Ho,
Bhula Do Use Jis Par Bharosa Na Ho,
Hum To Apne Gamo Par Bhi Hass Padte Hain,
Wo Isliye Ki Samne Wala Udas Na Ho.

Dard Shayari, Talash Hai Ek Aise Shakhs Ki

Talash Hai Ek Aise Shakhs Ki,
Jo Aankhon Mein Us Waqt Dard Dekh Sake,
Jab Sab Log Mujse Khete Hain,
Kya Yaar Hamesha Hansti Rehti Ho.

Har nazar ko ek nazar ki talash hai, Shayari

Har nazar ko ek nazar ki talash hai,
Har chehre mein kuchh to ehsah hai,
Aapse dosti hum yun hi nahi kar baithe,
Kya karen hamari pasand hi kuchh KHAAS hai.

Talash Hai Us Manzil Ki, Shayari

Talash Hai Us Manzil Ki,
Jise Main Pana Nahi Chahti,
Dekh Raha Hai Wo Mujhe,
Par Mai Uski Nazron Mai Aana Nahi Chahati….

Mile wo jo aapki nazar ko talash ho

Mile wo jo aapki nazar ko talash ho,
Har subah ke saath ek naya ahsaas ho,
Zindagi ka har lamha pasand aaye apko,
Zindagi gujre aise ki har pal khushiyo se mulakat ho

Hindi Shayari, Kashti Hai Purani

Kashti Hai Purani Magar Dariya Badal Gaya,
Meri Talash ka Bhi To Jariya Badal gaya,
Na Shaql Hi Badli Na Badla Mera Kirdar,
Bas Logo Ke Dekhne Ka Najarya Badal gaya.

कश्ती है पुरानी मगर दरिया बदल गया,
मेरी तलाश का भी तो जरिया बदल गया,
ना शक्ल बदली ना अक्ल बदली,
बस लोगों के देखने का नजरिया बदल गया।

Life Shayari, Na jane kyun

Na jane kyun e-zindagi mujhe tere talash hai,
Mana carodho pal hai is zindagi main,
Par tere sath beetaya ek pal un carodho se khas hai,
Es liye e-zindagi mujhe tere talaash hai.

ना जाने क्यों ए जिंदगी मुझे तेरी तलाश है,
माना करोड़ पल है इस जिंदगी मैं,
पर तेरे साथ बीताया एक पल उन करोड़ों से खास है,
इस लिए ए जिंदगी मुझे तेरी तलाश है।