Search Results for: Prem

2 Line Shayari, Prem ki dhara

प्रेम की धारा, बहती है जिस दिल में,
चर्चा उसकी होती है, हर महफ़िल में। 💞


चूम लेती हैं लटक कर, कभी चेहरा कभी लब,
तुमने ज़ुल्फ़ों को बहुत सर पे चड़ा रखा हैं।


चेहरा देख कर इंसान पहचानने की कला थी मुझमें,
तकलीफ़ तो तब हुई जब इन्सानों के पास चेहरे बहुत थे।


होता अगर मुमकिन तो.. तुझे साँस बना कर रखते अपने दिल में,
तू रुक जाये तो मैं नही, मैं मर जाऊँ तो तूम नही।


किन लफ़्ज़ों में बंया करूँ मैं अपने दर्द को,
सुनने वाले तो बहुत है मगर समझने वाला कोई नही।


आख़िरी घूंट तक उसे पिला साक़ी,
मयकदे की कसम अभी भी होश में है वो।


आँखों मे लगाकर काजल, जुल्फों मे बसाकर बादल,
ए मेरे सनम तुम कहा चले, हवा मे ल़हरा कर आँचल।


दिल मे ना जाने कैसे तेरे लिए इतनी जगह बन गई,
तेरे मन की हर छोटी सी चाह मेरे जीने की वजह बन गई।


ब इस से ज्यादा क्या नरमी बरतू,
दिल के ज़ख्मो को छुया है तेरे गालों की तरह।


शहर भर की जुलेखाओ को पर्दे की नसीहत करने वाले बहोत हैं,
कोई मेरे शहर के यूसुफो से भी कहे के निगाहे नीची रखें।

Meri prem kahani ka kya ajeeb ending tha, Shayari

Meri prem kahani ka kya ajeeb ending tha,
Meri prem kahani ka kya ajeeb ending tha,
Maine propose kia SMS se,
Kambakth woh uski shaadi tak pending tha.

Dussehra Shayari and Wishes

आज की नई सुबह इतनी सुहानी हो जाए,
आपके दुखों की सारी बातें पुरानी हो जाएं,
दे जाए इतनी खुशियां ये दशहरा आपको,
कि ख़ुशी भी आपके मुस्कुराहट की दीवानी हो जाएं ।
आपको और आपके परिवार को दशहरा की बहुत-बहुत शुभ-कामनायें.


मैंने महसूस किया है उस जलते हुए रावण का दुःख
जो सामने खड़ी भीड़ से बारबार पूछ रहा था..
तुम में से कोई राम है क्या?


अधर्म पर धर्म की विजय
असत्य पर सत्य की विजय
बुराई पर अच्छाई की विजय
पाप पर पुण्य की विजय
अत्याचार पर सदाचार की विजय
क्रोध पर दया, क्षमा की विजय
अज्ञान पर ज्ञान की विजय
रावण पर श्रीराम की विजय
के प्रतीक पावन पर्व
विजयादशमी की हार्दीक शुभकामनायेँ।


दशहरे की आपको,पूरे परिवार को बहुत-बहुत शुभकामनाएं एवं बधाई।
दशहरा असत्य पर सत्य की विजय है।
आप भी हर पथ पर विजयी हों, यही भगवान से हमारी मंगल कामना है।


असत्य पर सत्य की जीत के त्यौहार
विजयदशमी की आपको और आपके परिवार को
हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं.. ईश्वर आपको नई ऊंचाइयां दे।


आप सभी को रामनवमी एवं दशहरा के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ!
मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि आप व आपका परिवार सदैव सुख समृद्ध खुशहाल रहे!


Ram ji to achche the hi Par Rawanji bhi bure nahi the..
Ye din to achha jaye hi Lekin purane din bhi bure nahi the… HAPPY DASSARA.


Aapki Kamyabi Hanuman Ji Ki Pooch Jitni Lambi Ho,
Ram Ji Ne Lanka Jeeti, Aap Is Duniya Ki Saari Khushi Jeetein.
Our Best Wishes


Jyot se jyot jagate chalo.
Prem ki ganga bahate chalo.
Rah mein aaye jo deen dukhi.
Sabko gale se lagate chalo.
Din aaygega sabka sunehra.
Isliye meri oar se Happy Dussehra.


Burai Ka Hota Hai Vinash,
Dussehra Lata Hai Ummid Ki Aas,
Ravan Ki Tarah Aapke Dukho Ka Ho Nash..
Vijay Dashmi Wishes


Adharm Par Dharm Ki Jeet,
Anyay Par Nyay Ki Vijay,
Burai Par Acchai Ki Jai Jai Kar,
Yahi Hai Dussehre Ka Tyohar..


Is se pahele ki Dussehre ki sham ho jaye,
Mera sms auron ki tarah aam ho jaye,
Sare mobile network jaam ho jaye,
Aur Dussehra wish karna aam ho jaye.
HAPPY DUSSEHRA


Dussehre Ka Yeh Pawan Parv,
Aapke Aur Aapke Poore Pariwar Ke Liye Mangalmay Ho,
Yahi Kamna Karte Hain.. Happy Dasahra


Ho aapki life me khushiyon ka mela,
kabhi na aaye koi jhamela,
sada sukhi rahe aapka basera..
wish you Happy Dussehra.

Hindi Poem, Na thi kisi ki himmat

Na thi kisi ki himmat koi aankh na dikhata tha,
Ab kaha chali gyi hain humari androoni shakti,

Gila sikhwa dur kar prem ka ban chalana hoga,
Yahi paigam hume pahuchana hoga basto basti,

Hume humare desh ko wahi esthan dilana hoga,
Humare mein hi hain humare desh ki shakti,

Hum mein hi hain humare rashtra ki shakti,
Humari desh bhakti hi hain humari shakti..

Attitude Shayari, Use bhul kar jiya

Use bhul kar jiya to kya jiya,
Dam hai to use pakar dikha,
Likh patthro par apne prem ki kahani,
Aur sagar ko bol ..
Dam hai to ise mita kar dikha.

Kash pyaar ka insurance ho jata, Shayari

Kash pyaar ka insurance ho jata,
Pyar karne se pehle premium bharwaya jata,
Pyar mein wafa mili to theek warna,
Bewafaon pe jo kharcha hota uska claim to mil jata.