Search Results for: Khush

Sad Shayari, Khush nasib hote hain badal

खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी.. मिलने को तरसते हैं.

Khush nasib hote hain badal,
Jo dur rehkar bhi zameen par baraste hain,
Aur ek badnasib hum hain,
Jo ek hi duniya mei rehkar bhi.. Milne ko taraste hain.

Dosti Shayari, Mil jati hai kitno ko khushi

मिल जाती है कितनो को ख़ुशी,
मिट जाते हैं कितनो के गम,
मैसेज इसलिये भेजते है हम,
ताकि न मिलने से भी अपनी दोस्ती न हो कम.

Mil jati hai kitno ko khushi,
Mit jate hain kitno ke gum,
Message isliye bhejte hai hum,
Taki na milne se bhi apni dosti na ho kam.

Love Shayari, Mujh mein khushboo

मुझ में खुश्बू बसी उस की है
जैसे की ये जिंदगी उस की है
वो कहीं आस पास है मौजूद
हु-ब-हू हंसी उस की है
खुद मैं दुखा रहा हूं दिल अपना
इसमें लेकिन खुशी उस की है
यानी कोई कमी नहीं है मुझ में
यानी मुझ में कमी उस की है
क्या मेरे ख्वाब भी मेरे नहीं
क्या मेरी नींद भी उस की है|

Love Shayari, Khushboo Bankar

Khushboo Bankar Teri Saanso Mein Sama Jayenge,
Sukun Bankar Tere Dil Mein Utar Jayenge,
Mehsus Karne Ki Koshish To Kijiye,
Dur Rahte Hue Bhi Pass Najar Aayenge.

Love Shayari, Kaash koi khushiyon ki

काश की खुशियो की दुकान होती ।
उनमे हमारी थोरी पहचान होती ।
सारी खुशियाँ डाल देता तेरी दामन मे चाहे
उनकी कीमत हमारी जान क्यो न होती |

Kaash koi khushiyon ki dukaan hoti,
Aur mujhe uski pehchaan hoti,
Khareed leta har khushi aapke liye,
Chahe uski keemat meri jaan bhi hoti.

Love Shayari, Teri Khushio Ko

Teri Khushio Ko Sajana Chahta Hoon,
Tujhe Dekh Kar Muskurana Chahata Hoon,
Meri Zindagi Me Kya Ahmiyat Hain Teri,
Ye Labzo Me Nahi Paas Aa Kar Batana Chahata Hoon.

Love Shayari, Teri khushiyo ko

तेरी खुशिओं को सजाना चाहता हूँ,
तुझे देखकर मुस्कराना चाहता हूँ,
मेरी ज़िन्दगी में क्या अहमियत हैं तेरी,
ये लब्ज़ों में नही,पास आकर बताना चाहता हूँ।

Teri khushiyo ko sajana chahti hu,
Tujhe dekh k muskurana chahti hu,
Meri zindagi me kya ahmiyat hai teri,
Ye lafzo me nahi pass aa kar batana chahti hu.

Relationsip Shayari, Khushi Ke Aasu

Khushi Ke Aasu Rukne Na Dena,
Gum Ke Aasu Bahne Na Dena,
Yeh Zindagi Na Jane Kab Ruk Jayegi Magar,
Ye Pyari Si Relationsip Kabhi Tutne Na Dena.

Barish Shayari, Aaj mausam kitna khushgawar

आज मौसम कितना खुश गंवार हो गया,
खत्म सभी का इंतज़ार हो गया,
बारिश की बूंदे गिरी कुछ इस तरह से,
लगा जैसे आसमान को ज़मीन से प्यार हो गया|

Humsafar Shayari, Waqt Aur Khushi Tere Gulam Honge

Waqt Aur Khushi Tere Gulam Honge,
Ye Pal Ye Pehlu Tere Hi Naam Honge,
Dekhna Kabhi Jhuk Kar Neeche Bhi Ae Humsafar,
Tere Har Kadam Ke Neeche, Mere Haathon Ke Nishan Honge.