Search Results for: Ehsaas

2 Line Shayari, Tere Ehsaaso Mein

तेरे एहसासों में जो सुकून है..
वो नींद में कहाँ ..


अजीब किस्सा है जिन्दगी का,
अजनबी हाल पूछ रहे हैं और अपनो को खबर तक नहीं..


ये जो हालात हैं एक रोज सुधर जायेंगे..
पर कई लोग मेरे दिल से उतर जायेंगे..


मुजे ऊंचाइयों पर देखकर हैरान है बहुत लोग..
‪‎पर‬ किसी ने मेरे पैरो के छाले नहीं देखे..


मिठास रिश्तों कि बढाए तो कोई बात बने..
मिठाईयाँ तो हर साल मीठी ही बनती है..


अपनी जिंदगी अजीब रंग में गुजरी है..
राज किया दिलों पे और तरसे मोहब्बत को..


बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी,
फिर भी बेइंतहा तुझे चाहने की बेबसी मेरी !


वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते हैं कुछ रिश्ते..
कसूर हर बार गल्तियों का नही होता..


किसकी खातिर अब तु धड़कता है ऐ दिल..
अब तो कर आराम, कहानी खत्म हुई !

Sad Shayari, Ek pal ka ehsaas

एक पल का एहसास बनकर आते हो तुम,
दुसरे ही पल ख्वाब बनकर उड़ जाते हो तुम,
जानते हो की लगता है डर तन्हाइयों से,
फिर भी बार बार तनहा छोड़ जाते हो तुम..!!

Ek Pal Ka Ehsaas Bankar Aate Ho Tum,
Dusre Hi Pal Khwab Bankar Udd Jate Ho,
Tum Jaante ho Ki Lagta Hai Dar Tanhaiyon se,
Phir Bhi Baar Baar Tanha Chhor jate ho Tum..!!

Love Shayari, Mohabbat ek ehsaas ki

मोहब्बत एक एहसासों की पावन सी कहानी है,
कभी कबीरा दीवाना था ,कभी मीरा दीवानी है,
यहाँ सब लोग कहते हैं मेरी आँखों में आँसू हैं,
जो तू समझे मोती है जो न समझे तो पानी है|

Ehsaas Shayari, Mohabbat Ek Ehsaaso ki

मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है !
कभी कबिरा दीवाना था कभी मीरा दीवानी है !!
यहाँ सब लोग कहते हैं, मेरी आंखों में आँसू हैं !
जो तू समझे तो मोती है, जो ना समझे तो पानी है !!

Mohabbat Ek Ehsaaso Ki Pawan Si Kahani Hai,
Kabhi Kabira Diwana Tha, Kabhi Mira Diwani Hai,
Yahan Sab Log Kahte Hain Meri Aankhon Mein Ansoon Hain,
Jo Tu Samjhe To Moti Hai, Jo Na Samjhe To Pani Hai.

Love Shayari, Ehsaas-E-Mohabbat

Ehsaas-E-Mohabbat K Liye..
Bus Itna Hi Kafi Hai..
Tere Baghair Bhi Hum..
Tere Hi Rehty Hain !!!

Dosti Shayari, Kushboo mein ehsaas hota hai

Kushboo mein ehsaas hota hai,
Dosti ka rista kuch khaas hota hai,
Har baat juba se kehna mumkin nahi,
Isliye to dosti ka naam vishwash hota hai.

Romantic Shayari, Is baat ka ehsaas

Is baat ka ehsaas..
Kisi par na hone dena..
Ke teti chahaton se chalti hai..
Meri sansein..

Best Dua Shayari, Ek Ehsaas Bilkul

Ek Ehsaas Bilkul Teri Ada Ka Tha,
Bahir Nikal Kar Dekha To Jhonka Hawa Ka Tha,
Zindagi Ki Har Mushkil Se Main Takra Gaya,
Sahara Mujhe Faqt Teri Dua Ka Tha.

True Shayari, Jab bikhare tut kar toh ehsaas hua

Jab bikhare tut kar toh ehsaas hua,
Har kisi se itna dil lagaya nahi karte,

Yaha masum chehre bhi loot lete hai,
Har ek pe yuhi etbaar kiya nahi karte,

Koyi aur bhi muntezir hai tera kahi,
Ik shakhs ki talab hi kiya nahi karte,

Pal bhar me badal jaate hai log yaha,
Aise logo se mohabbat kiya nahi karte.

Ek aas ek ehsaas, Shayari

Ek aas, ek ehsaas,
Meri soch aur bus tum,
Ek sawal, ek majaal,
Tumhara khayal or bs tum.