Search Results for: Aashiq

Hot Shayari, Hum Dilphenk Aashiq

Hum Dilphenk Aashiq Har Kaam Mein Kamaal Kar De,
Jo Vaada Kare Woh Pura Har Haal Mein Kar De,
Kya Zarurat Hai Ladkiyo Ko Lipistic Lagane Ki,
Hum Chum-Chum Ke Hi Honth Laal Kar De.

हम दिलफेक आशिक़ हर काम में कमाल कर दे,
जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे,
क्या जरुरत है लड़कियों को लिपस्टिक लगाने की,
हम चूम-चूम के ही होंठ लाल कर दें।

2 Line Shayari, Main tera aashiq hoon

में तो आशिक़ हु सिर्फ एक बार मरूँगा,
लेकिन मेरे ‎प्यार‬ की सच्चाई जानकर वो बार बार मरेंगी।


इंतेजार भी कितनी अजीब चीज हे ना खुद करे तो,
गुस्सा आता है, और.. दूसरा कोई करे तो अच्छा लगता है।


सुनो! या तो मिल जाओ, या बिछड जाओ,
यू साँसो मे रह कर बेबस ना करो।


कुछ रिश्ते दरवाज़े खोल जाते है,
या तो दिल के, या तो आँखों के।


उनसे कह दो कोई जाकर के की हमारी सजा कुछ कम कर दे,
हम पेशे से मुजरिम नही है बस गलती से इश्क हुआ था।


मसला तो सिर्फ एहसासों का है, जनाब,
रिश्ते तो बिना मिले भी सदियां गुजार देते हैं।


आदत नहीं है मुझे सब पे फ़िदा होने की पर तुझ में,
कुछ बात ही ऐसी है की दिल को समझने का मौका ही नहीं मिला।


हलकी फुलकी सी होती है जिन्दगी,
बोझ तो ख्वाहिशों का होता है।


हमारे महफिल में, लोग बिन बुलाये आते है,
क्यूकी यहाँ स्वागत में, फूल नहीं, दिल बिछाये जाते है।


तेरा अहसास.. साथ साथ बहुत नज़ाकत से मेरे साथ रहती है,
ख़्वाबों में भी.. साथ साये की तरह ही साथ साथ चलती है।

Funny Shayari, Hum dil fek aashiq

हम दिलफेक आशिक़ है, हर काम में कमाल कर दे,
जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे,
क्या जरुरत है जानू को लिपस्टिक लगाने की,
हम चूम-चूम के ही होंठ उसके लाल कर दे !!

Hum dil fek aashiq har kam me kamal kar de.
Jo wada kare use pura har haal me kar de.
Tujhe lipistik lagane ki kya jarurat,
hum hot chum-chum ke lal kar de.

Hindi Love Shayari, Pyar mohabbat aashiqui

प्यार मोहब्बत आशिकी..
ये बस अल्फाज थे..
मगर.. जब तुम मिले..
तब इन अल्फाजो को मायने मिले !!

Aashiqui Shayari, Tere shehar mein aake

Tere shehar mein aake benam se ho gaye,
Teri chahat me apni muskan hi kho gaye,
Jo dube teri mohabbat me to aise dube,
Ke jaise teri aashiqui ke gulam hi ho gaye.

Aashiqui Bhi Dosto Kya Classical Sangeet Thi, Shayari

Aashiqui Bhi Dosto Kya Classical Sangeet Thi
Raag To Ohi Jaane Kya Tha, Jaane Kya Gaate Rahe

Zindagi Bhar Ishq Ka Izhaar Karne Ke Liye
Voh Bhi Haqlaate Rahe Aur Hum Bhi Haqlaate Rahe.

Oh aashiq ne gore rang de

Oh aashiq ne gore rang de,
saade kol gora rang nahi,
saada dil ta ohna de naal hai,
par oh saade sang nahi.

Sad Shayari, Bahut mehngi hui wafa

Bahut mehngi hui ab to wafa,
log kaha milte hai.. jo sachcha pyar kare,
mohabbat to ban gai hai ab saza,
aashiq kaha milte hai, jo sang-sang ishq ka dariya paar kare!

बहुत महँगी हुई अब तो वफा..
लोग कहाँ मिलते हैं, जो सच्चा प्यार करें
मोहब्बत तो बन गई है अब सजा..
आशिक कहाँ मिलते हैं, जो संग-संग इश्क का दरिया पार करें!

Funny Rakhi Shayari, Funny Raksha Bandhan Shayari

Har ladki tere liye bekarar hai,
Har ladki ko tera intzar hai,
Ye tera koi kamaal nahi,
bus kuch din baad..
RAAKHI ka tyohaar hai!!


Ummidon ki manzil deh gayi,
Khwabon ki duniya beh gayi,
Abe teri kya izzat reh gayi,
Jab ek zakkas item tere ko ‘BHAIYA’ aur RAKHI pehna gayi..


Apki charcha hai har gali mein,
Har ladki ke dil me apke liye pyar hai,
Ye koi chamatkar nahi time hi aisa hai,
Kyonki kuch hi dino me RAKHI ka tyohar hai.


Khuda Kare Khushiya Mile Tujhe Hazaar
Mile Mujhse Bhi Acha Yaar..
Meri Girlfriend Bandhe Tujhe Rakhi,
Aur Ek Aur Behan Ka Mile Pyaar..


Wo Chham chham karke aayi,
Chham chham karke Chali Gayi,
Main Mangal sutra leke khada raha
wo rakhi bandhkar chali gayi.


Khuda Kare Tujhe Khushiyan Hazar Mile
Mujhse Bhi Acha Yaar Mile,
Meri Girlfriend Tujhe Bandhe Rakhi,
Aur Ek Aur Behan Ka Pyaar Mile..


Na Papa ki maar se,
na Dosto ki fatkaar se,
Na ladki ke inkar se,
na chaplo ki bochar se,
Aashiq Sudhrenge to Sirf RAKHI ke Tyohar se

Udas Shayari, Itni Bechaini Se Tumko

इतनी बेचैनी से तुमको किसकी तलाश है,
वो कौन है जो तेरी आंखों की प्यास है,
जबसे मिला हूं तुमसे यही सोचता हूं मैं,
क्यों मेरे दिल को हो रहा तेरा एहसास है,
जिंदगी के इस मोड़ पे तुम आके यूं मिले,
जैसे कि कोई मंजिल मेरे इतने पास है,
एक नजर की आस में तकता हूं मैं तुझे,
अब देख तेरे खातिर एक आशिक उदास है|

Itni Bechaini Se Tumko Kiski Talaash Hai,
Wo Kaun Hai Jo Teri Aankhon Ki Pyaas Hai,
Jabse Mila Hun Tumse Yahi Sochtaa Hun Main,
Kyon Mere Dil Ko Ho Raha Tera Ehsaas Hai,
Zindgi Ke Is Mod Pe Tum Aake Yun Mile,
Jaise Ki Koi Manzil Mere Itne Paas Hai,
EK Nazar Ki Aas Me Dekhta Hun Main Tujhe,
Ab Dekh Tere Khatir Ek Aashiq Udaas Hai.