Sitaaron ko aankhon mein mehfuz rakhna, Shayari

Sitaron ko aankhon mein mehfuz rakhna,
badi der tak raat hi raat hogi
Musafir hain hum bhi, musafir ho tum bhi,
kisi mod par, phir mulaqat hogi. 😔

सितारों को आँखों में महफूज रखना,
बड़ी देर तक रात ही रात होगी,
मुसाफिर हैं हम, मुसाफिर हो तुम भी,
किसी मोड़ पर फिर मुलाक़ात होगी। 😔

Aankhon ke raste dil mein utar kar nahi dekha, Shayari

आंखों के रास्ते दिल में उतर कर नही देखा,
तूने मेरे सीने में अपनी यादों का घर नही देखा,
तेरे इश्क की वहशत ने पागल बना दिया है मुझे,
तेरी गलियों की खाक के सिवा मैंने कुछ नही देखा! 💔

Dard Shayari, Vo dard hi kya jo aankhon se bah jaye

Vo dard hi kya jo aankhon se bah jaye,
Vo khushi hi kya jo hothon par rah jaye,
Kabhi to samjho meri khamoshi ko,
Vo baat hi kya jo lafz aasani se keh jaye! 📚

वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए,
वो खुशी ही क्या जो होठों पर रह जाए,
कभी तो समझो मेरी खामोशी को,
वो बात ही क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जायें! 📚

Sad Shayari, Ab to aansu bhi nahi aate aankhon mein

Ab to aansu bhi nahi aate aankhon mein,
Har zakhm nasur sa lagata hai,
Mohabbat aise mod par laei hai ke..
Ab apna naam bhi begana sa lagta hai. 💔

अब तो आँसू भी नही आते आँखों में,
हर ज़ख़्म नासूर सा लगता है,
मोहब्बत ऐसे मोड़ पर लाई है के..
अब अपना नाम भी बेगाना सा लगता है। 💔

Yaad Shayari, Aankhon mein meri

Aankhon mein meri kai logo ne padha hai,
Pinjare ke panchhi sa dil bebas khada hai,
Azaad hokar khule aasamaan mein udhane ko bekaraar hai,
Kisi aur ka nahi mujhe sirf tera hi intezaar hai. 🍂

आँखों में मेरी कई लोगो ने पड़ा है,
पिंजरे के पंछी सा दिल बेबस खड़ा है,
आज़ाद होकर खुले आसमां में उड़ने को बेकरार है,
किसी और का नहीं मुझे सिर्फ तेरा ही इंतेज़ार है। 🍂

Sad Shayari, Udas aankhon mein

Udas aankhon mein apani karaar dekha hai,
Pahali baar use beqaraar dekha hai,
Jise khabar na hoti thi mere aane jaane ki,
Uski aankhon mein ab intazaar dekha hai.

उदास आँखों में अपनी करार देखा है,
पहली बार उसे बेक़रार देखा है,
जिसे खबर ना होती थी मेरे आने जाने की,
उसकी आँखों में अब इंतज़ार देखा है।

Sad Shayari, Ab aansoonon ko aankhon

Ab aansoonon ko aankhon me sajana hoga,
Charaag bujh gaye khud ko jalana hoga,
Na samajhna ki tumse bichadke khush hain hum,
Hamein logon ki khatir muskurana hoga..

Sad Shayari, Mere aankhon ke aansu

Mere aankhon ke aansu kah rahe mujhse,
Ab dard itana hai ki saha nahi jata,
Na rok palako se khul kar chhalakane de,
Ab yu in aankhon mein raha nahi jaata.

मेरी आंखों के आंसू कह रहे मुझसे,
अब दर्द इतना है कि सहा नहीं जाता,
न रोक पलको से खुल कर छलकने दे,
अब यूं इन आंखों में रहा नहीं जाता।

Good Morning Shayari, Neend Bhari Aankhon Ko

Neend Bhari Aankhon Ko Zara Dheere Dheere Kholo,
Is Pyari Si Subah Ki Nami Se Apni Palko Ko Zara Dho Lo,
Humne To Aapko Bol Diya Hai Good Morning,
Ab Aapki Baari Hain Hume Good Morning To Bolo..

नींद भरी आँखों को जरा धीरे धीरे खोलो,
इस प्यारी सी सुबह की नमी से अपनी पलकों को जरा ढोलो,
हमने तो आपको बोल दिया है गुड मॉर्निंग,
अब आपकी बारी हैं हमें गुड मॉर्निंग तो बोलो.

Love Shayari, Aankhon mein raha

आँखों में रहा दिल में उतरकर नहीं देखा,
कश्ती के मुसाफ़िर ने समन्दर नहीं देखा,
पत्थर कहता है मुझे मेरा चाहनेवाला,
मैं मोम हूँ उसने मुझे छूकर नहीं देखा!

Aankhon mein rahaa dil mein utarkar nahin dekha,
Kishti ke musafir ne samandar nahin dekha,
Patthar mujhe kahta hai mira chahne wala,
Main mom hun usne mujhe chhookar nahin dekha!

Love Shayari, Aankhon mein teri

आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है!
इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है!
कोई संभाले मुझे, बहक रहे है मेरे कदम!
वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है!

Hindi Shayari, Tere Khwabo ko Aankhon

तेरे ख्वाबो को ऑखो मे सजा रखा है
जिंदगी को यूँ रंगीन बना रखा है
बडी बेदद॔ है दुनिया की निगाहें यारा
उससे बचाकर एक आशियाना बना रखा है
नही अब खौफ किसी का भी हमको
हमने शहरे-दिल मे ठिकाना बना रखा है
अब आये तो आ जाये तूफान कोई
सजदे मे उसके सिर हमने झुका रखा है

Intzaar Shayari, Roti Hui Aankhon Mein

Roti Hui Aankhon Mein Intzaar Hota Hai,
Na Chahte Hue Bhi Pyaar Hota Hai,
Kyon Dekhte Hain Hum Woh Sapne,
Jinke Tutne Par Bhi Unke Sach Hone Ka Intzaar Hota Hai.