Jo aankhon mein hui baatein wo, Shayari

Jo aankhon mein hui baatein wo sabse hasin thi,
lafzon mein bayaan karke unhe ilazam na do. 👁💘

जो आँखों में हुई बातें वो सबसे हसीन थीं,
लफ़्ज़ों में बयान करके उन्हें इलज़ाम ना दो। 👁💘

Aankhon mein dekhi jati hain pyar ki gehraiyan, Shayari

Aankhon mein dekhi jati hain pyar ki gehraiyan,
shabdon mein to chhup jate hain bahut s tanhaiyan!

आँखों में देखी जाती हैं प्यार की गहराईयाँ,
शब्दों में तो छुप जाती हैं बहुत सी तन्हाईयाँ! 🌹💞

Sitaron ko aankhon mein mehfooz rakhna, Shayari

Sitaron ko aankhon mein mehfooz rakhna,
badi der tak raat hi raat hogi,
musafir hain hum, musafir ho tum bhi,
kisi mod pe phir mulaqat hogi. 💫

सितारों को आँखों में महफूज रखना,
बड़ी देर तक रात ही रात होगी,
मुसाफिर हैं हम, मुसाफिर हो तुम भी,
किसी मोड़ पर फिर मुलाक़ात होगी। 💫

Sitaaron ko aankhon mein mehfuz rakhna, Shayari

Sitaron ko aankhon mein mehfuz rakhna,
badi der tak raat hi raat hogi
Musafir hain hum bhi, musafir ho tum bhi,
kisi mod par, phir mulaqat hogi. 😔

सितारों को आँखों में महफूज रखना,
बड़ी देर तक रात ही रात होगी,
मुसाफिर हैं हम, मुसाफिर हो तुम भी,
किसी मोड़ पर फिर मुलाक़ात होगी। 😔

Aankhon ke raste dil mein utar kar nahi dekha, Shayari

आंखों के रास्ते दिल में उतर कर नही देखा,
तूने मेरे सीने में अपनी यादों का घर नही देखा,
तेरे इश्क की वहशत ने पागल बना दिया है मुझे,
तेरी गलियों की खाक के सिवा मैंने कुछ नही देखा! 💔

Dard Shayari, Vo dard hi kya jo aankhon se bah jaye

Vo dard hi kya jo aankhon se bah jaye,
Vo khushi hi kya jo hothon par rah jaye,
Kabhi to samjho meri khamoshi ko,
Vo baat hi kya jo lafz aasani se keh jaye! 📚

वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए,
वो खुशी ही क्या जो होठों पर रह जाए,
कभी तो समझो मेरी खामोशी को,
वो बात ही क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जायें! 📚

Sad Shayari, Ab to aansu bhi nahi aate aankhon mein

Ab to aansu bhi nahi aate aankhon mein,
Har zakhm nasur sa lagata hai,
Mohabbat aise mod par laei hai ke..
Ab apna naam bhi begana sa lagta hai. 💔

अब तो आँसू भी नही आते आँखों में,
हर ज़ख़्म नासूर सा लगता है,
मोहब्बत ऐसे मोड़ पर लाई है के..
अब अपना नाम भी बेगाना सा लगता है। 💔

Yaad Shayari, Aankhon mein meri

Aankhon mein meri kai logo ne padha hai,
Pinjare ke panchhi sa dil bebas khada hai,
Azaad hokar khule aasamaan mein udhane ko bekaraar hai,
Kisi aur ka nahi mujhe sirf tera hi intezaar hai. 🍂

आँखों में मेरी कई लोगो ने पड़ा है,
पिंजरे के पंछी सा दिल बेबस खड़ा है,
आज़ाद होकर खुले आसमां में उड़ने को बेकरार है,
किसी और का नहीं मुझे सिर्फ तेरा ही इंतेज़ार है। 🍂

Sad Shayari, Udas aankhon mein

Udas aankhon mein apani karaar dekha hai,
Pahali baar use beqaraar dekha hai,
Jise khabar na hoti thi mere aane jaane ki,
Uski aankhon mein ab intazaar dekha hai.

उदास आँखों में अपनी करार देखा है,
पहली बार उसे बेक़रार देखा है,
जिसे खबर ना होती थी मेरे आने जाने की,
उसकी आँखों में अब इंतज़ार देखा है।